Sab Yaad Rakkha Jayega

आमिर अज़ीज़ कि यह कविता बहुत वायरल हो रही है।

Slået op af JAMIA TV i Torsdag den 20. februar 2020

देवबंद के शाहीनबाग़ का नेतृत्व कर रही इरम उस्मानी से पत्रकार ने पूछा – क्या डर नहीं लगता? इरम ने कहा जब लड़ाई वजूद पर आ जाती है तो कदमों को पीछे नहीं हटाया जा सकता, हमें कोई खौफ नहीं है। अगर जीत गए तो तिरंगा मुबारक और हार गए तो कफन मुबारक।

देवबंद के शाहीनबाग़ का नेतृत्व कर रही इरम उस्मानी से पत्रकार ने पूछा – क्या डर नहीं लगता? इरम ने कहा जब लड़ाई वजूद पर आ जाती है तो कदमों को पीछे नहीं हटाया जा सकता, हमें कोई खौफ नहीं है। अगर जीत गए तो तिरंगा मुबारक और हार गए तो कफन मुबारक।

Slået op af Mumbra Buland i Fredag den 14. februar 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *